बालदिवस पर हिंदी में भाषण Baldiwas Bhashan in Hindi

बालदिवस Baldiwas 2017 : बालदिवस children’s day  पर आप सभी का स्वागत है भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु Pandit Jawahar Lal Nehru का 14 नवम्बर को जन्म दिवस मनाया जाता है | चाचा नेहरु Chacha Nehru बच्चों children’s के प्रिय थे वो बच्चों से ज्यादा लगाव रखते थे | इसी कारण 14 नवम्बर को सम्पूर्ण भारत में बालदिवस Baldiwas के रूप में मनाया जाता है | इसी उपलक्ष में हम आपके लिए लेकर आ रहे विद्यार्थियों Students और शिक्षकों Teacher के बालदिवस Baldiwas पर भाषण Speech जो आप विद्यालय School में सुना सकते है |

बालदिवस

बालदिवस पर हिंदी भाषण Bhashan on Baldiwas in Hindi 

आदरणीय गुरुजनगण मेरे प्यारे दोस्तों 14 नवम्बर बालदिवस Baldiwas पर आप सभी का स्वागत है | जैसे की हम जानते है की आज 14 नवम्बर को बालदिवस Baldiwas पर्व और बच्चों के महत्व के बारे में चर्चा करने जा रहे है | इसी दिन हमरे प्रथम प्रधानमंत्री माननीय श्री पंडित जवाहर लाल नेहरु का जन्म दिवस भी आता है | जो बच्चों के प्रिय थे चाचा नेहरु को बच्चों से बहुत लगाव था | इसके साथ ही बच्चे देश का भविष्य भी है बच्चों के इस योगदान को कभी नजरंदाज नही किया जा सकता है | क्योकि बच्चों को सभी के द्वारा पसंद किया जाता है | बाल दिवस बच्चों द्वारा चाचा नेहरु को श्रदांजलि देने के लिए मनाया जाता है |

बालदिवस 2017

बालदिवस Baldiwas भारत में 14 नवम्बर को माने जाता है | हालाकि भारत के अलावा दुसरे देशो में भी बालदिवस अलग – अलग दिन मनाया जाता है | जबकि संयुक्त राष्ट्र की सभा में 20 नवम्बर को आधिकारिक रुप से बाल दिवस मनाने की घोषणा की गयी थी | 14 नवम्बर का दिन अपने महान नेता और स्वतन्त्रता सेनानी व भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु का जन्म दिवस है | चाचा नेहरु के बारे में बताया जाता है की वो बच्चों से बहुत प्यार करते थे और उनके के साथ वो बहुत ही सहज रहते थे | इसी कारण इस दिन को बालदिवस के रूप में घोषणा की गई थी |

nehru ji

चाचा नेहरु के बारे में बताया जाता है की वो हमेश ही बचपन को पसंद करते थे | क्योकि बच्चे आने वाला कल है जो राष्ट्र का निर्माण कर देश को आगे ले जा सकते है | बचपन का वह जीवन हमेश ही अच्छा जीवन होता है इसी लिए अगर हमरे बच्चे मानसिक और शारीरिक रुप से स्वस्थ्य होगें तो वे राष्ट्र के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सकते है । इसलिए जीवन में बचपन की अवस्था सबसे महत्वपूर्ण चरण होती है | इस लिए देश का नागरिक होने के नाते हमें अपनी जिम्मेदारियों को समझना चाहिए और राष्ट्र के भविष्य को बचाने का प्रयत्न करना चाहिए | ।

चिल्ड्रन स डे भाषण

बालदिवस हमेशा ही अनेक प्रतियोगिताओ का पर्व है जिसमे बच्चों द्वारा अनेक प्रकार की गतिविधिया जैसे खेल ,नृत्य, नाटक ,राष्ट्रीय गीत ,भाषण निबन्ध लेखन वाद विवाद प्रतियोगिता चित्रकला प्रतियोगिता गायन, और सांस्कृतिक कार्यक्रमों इत्यादि का आयोजन किया जाता है | इस दिन बच्चों के सभी प्रतिबंधों पर रोक होती है | और उन्हें अपनी इच्छा के अनुसार पर्व मानाने की अनुमति दी जाती है | इस दिन बच्चे कार्यक्रमों में अपनी योग्यता को प्रदर्शित करते है |

 

You Must Read

Essay on Yog Diwas 2018 international yoga day on 21 June यो... Essay on Yog Diwas 2018 International Yoga Day is ...
CAT Exam Result 2017 CAT Score Card ,Cut Off Marks at iiml.... CAT Exam Result 2017( IIM ) Indian Institute of Ma...
Baldiwas Kavita बाल दिवस पर विशेष कविताओ का संग्रह... बाल दिवस Bal Diwas को चाचा नेहरु के जन्मदिवस के रू...
Haryana TET Answer Key 2017 HTET Solved Question Answer Shee... Haryana TET Answer Key 2017 Download : The Haryana...
Happy Teej Festival 26 July 2017 Quotes, wishes, Messages SMS Wishes, to wish your loved ones Teej Festival ...
राजस्थान यूनिवर्सिटी जयपुर के विभाग संघटक कॉलेज परिणाम पाठ्य... राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर की सामान्य जानकारी Ge...
गोपाष्टमी 2017 मुहर्त पूजा विधि कथा और महत्व... गोपाष्टमी 2017 : कार्तिक शुक्ल पक्ष की अष्टमी को ग...
महाराजा गंगा सिंह यूनिवर्सिटी बीकानेर पाठ्यक्रम विभाग का विव... महाराजा गंगा सिंह यूनिवर्सिटी, बीकानेर की स्थापना ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *