इंटरनेशनल फादर्स डे पर कविता गीत और हिंदी मैं भाषण

Fathers Day 2017 : फादर्स डे, जिसको हर साल 18 जून को मनाया जाता है. यह दिन सभी पिता के लिए सबसे खास दिन हैं. इस दिन सभी बच्चे अपने डैड के लिए कुछ-न-कुछ स्पेशल करते है जिससे सभी बच्चे अपने पिता को ख़ुश कर सके.

International Fathers Day 2017

पिता दिवस : हमारी भारतीय संस्कृति में माता-पिता का स्थान सर्वोच्च रहा है, किन्तु आजकल वैश्वीकरण के प्रभाव में हम विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय दिवसों को भी ख़ुशी-ख़ुशी सेलिब्रेट करते हैं. वैसे भी हमारी संस्कृति हर तरह के सद्विचारों और मूल्यों का स्वागत करती रही है और इस लिहाज से प्रत्येक वर्ष जून के तीसरे रविवार 18 जून को ‘इंटरनेशनल फादर्स डे’मनाया जाता हैं | (International father’s day) का दिन प्रत्येक व्यक्ति के लिए महत्वपूर्ण है. आखिर, हर कोई किसी न किसी की ‘संतान’ तो होता ही है और इसलिए उसका फ़र्ज़ बनता है कि वह अपने पिता के प्रति अपने जीवित रहने तक सम्मान का भाव रखे, ताकि
अगली पीढ़ियों में उत्तम संस्कार का प्रवाह संभव हो सके.

मेरे प्यारे पिता – मेरे पिता दुनिया के सबसे अच्छे पिता हैं | मेरे पिता ने भगवान से मुझे माँगा,उनको मेरा बहुत बहुत धन्यवाद ,बाल्यवस्था मैं माता की गोद में शरण मिली ,बडा होते ही पिता की अंगुली का सहारा मिला,पिता की अंगुली पकड़कर चलना सिखा | पिता ने शिक्षा का रास्ता दिखया,पिता ने मुझे जिन्दगी की झलक दिखाई और मुझे जिन्दगी जीने का रास्ता सिखाया आज मेरे पापा दुनिया के सबसे अच्छे पिता श्री हैं | मेरे पिता सदैव हर समय धीरज से काम लेते हैं और कभी खुद पर से आपा नहीं खोते। हर परिस्थिति में वे शांति से सोच समझ कर आगे बढ़ते हैं और गंभीर से गंभीर मामलों में भी धैर्य बनाए रखते हैं।

मेरे पिता के गुण

मेरे पिता एक अच्छे पिता हैं ,मेरे पिता ने हमेशा मेरा भला किया |एक पिता अपने बच्चे के लिए तमाम कठिनाईयों के बाद भी पिता के चेहरे पर कभी मायूसी नहीं आती. शायद इसीलिए कहते हैं कि पिता ईश्वर का रूप होते हैं, क्योंकि खुद सृष्टि के रचयिता के अलावा दुसरे किसी के भीतर ऐसे गुण भला कहाँ हो सकते हैं. हमें जीवन जीने की कला सिखाने और अपना सम्पूर्ण जीवन हमारे सुख के लिए न्योछावर कर देने वाले पिता के लिए वैसे तो बच्चों को हर समय तत्पर रहना चाहिए, लेकिन अगर इतना संभव न हो तो, कम से कम साल में एक खास दिन (International father’s day) तो हो ही, उसी दिन उनको जी भरके याद करना चहिये उनके त्याग और परिश्रम को चुकाया नहीं जा सकता, पिता के द्वारा किया गया अहसान हमें जिन्दगी भर नहीं भूलना चाहिए और पिता का अहसान हमे जिन्दगी भर नहीं भूलना चाहिय | लेकिन कम से कम हम इतना तो कर ही सकते हैं कि उनके प्रति ‘कृतज्ञ’ बने रहे |

मेरे पिता का स्वभाव

बदलते ज़माने के साथ पिता का स्वरुप भी बदला है और हमेशा गम्भीर और कठोर दिखने वाले पिता की जगह अब अपने बच्चों के संग खेलने और मस्ती करने वाले पिता ने ले लिया है. समय के साथ बदलाव तो स्वाभाविक हैं, लेकिन पिता के कर्त्तव्य में कोई बदलाव नहीं आएगा और यही हमारी संस्कृति रही है. बदलते ज़माने और रोजगार की जरूरतों की वजह से आज हम में से कई अपने माता-पिता से दूर हो गए हैं, ऐसे में हम उन बुजुर्ग कदमों को चाह कर भी सहारा नहीं दे पा रहे हैं, उनका अकेलापन नहीं दूर कर पा रहे हैं, तो मन में बस एक टीस भर जाती है अपनों के लिए, जो बेहद बेचैन करती है. ऐसे में हमें विभिन्न अवसरों,
त्यौहारों पर उन्हें समय अवश्य ही देना चाहिए, बेशक वह अवसर फादर्स डे ही क्यों न हो! हालाँकि, आज संयुक्त परिवारों के बिखण्डन से बुजुर्ग माँ-बाप की समस्याएं कहीं ज्यादा विकराल हो गयी हैं. ‘बागवान’ जैसी फिल्में हम देख ही चुके हैं और यह समाज की सच्चाई सी बन गयी है, जहाँ बच्चे बस अपने माँ-बाप की संपत्ति से मतलब रखते हैं, लेकिन उनके प्रति अपनी जिम्मेदारियों को अनदेखा कर देते हैं. जाहिर है, संस्कार कहीं न कहीं बिगड़े हैं और इसे सुधारने का प्रयत्न करना ही ‘फादर्स डे’ की सार्थकता कही जाएगी, अन्यथा फिर यह अन्य ‘पश्चिमी औपचारिकताओं’ की तरह ‘औपचारिकता’ बन कर रह जायेगा.

Mere Pyare Papa Kavita in Hindi

मेरे प्यारे प्यारे पापा,
मेरे दिल में रहते पापा,
मेरी छोटी सी ख़ुशी के लिए
सब कुछ सेह जाते हैं पापा,
पूरी करते हर मेरी इच्छा ,
उनके जैसा नहीं कोई अच्छा,
मम्मी मेरी जब भी डांटे,
मुझे दुलारते मेरे पापा,
मेरे प्यारे प्यारे पापा !

2. चाचा नेहरु इंद्रा के बाप और बेटी का प्यार

मैं पतंग, पापा है डोर
पढ़ा लिखा चढ़ाया आकाश की ओर,
खिली काली पकड़ आकाश की ओर,
जागो, सुनो, कन्या भ्रूण हत्यारों,
पापा सूरज की किरण का शोर,
मैं बनू इंदिरा सी, पापा मेरे नेहरू बने,
बेटियों के हत्यारों, अब तो पाप से तौबा करो,
पापा सच्चे, बेहद अच्छे, नेहरू इंदिरा से वतन भरे,
बेटियां आगे बेटो से, पापा आओ पाक एलान करो,
देवियों के देश भारत की जग में, ऊंची शान करें !

3. Heart Touching Sad Papa Poem

जाते जाते वो अपने जाने का गम दे गये…
सब बहारें ले गये रोने का मौसम दे गये…

ढूंढती है निंगाह पर अब वो कही नहीं…
अपने होने का वो मुझे कैसा भ्रम दे गये…

मुझे मेरे पापा की सूरत याद आती है…
वो तो ना रहे अपनी यादों का सितम दे गये…

एक अजीब सा सन्नाटा है आज कल मेरे घर में…
घर की दरो दिवार को उदासी पेहाम दे गये…

बदल गयी है अब तासीर, तासीरी जिन्दगी की…
तुम क्या गये आंखो में मन्जरे मातम दे गये…

मेरे पिताजी पर निबंध

हिन्दी में निबंध : मेरे पिता – पिताजी का दिल बहुत बड़ा है, कई बार उनके पास पैसे नहीं होते हुए भी वे अपनी जरूरत भूलकर हमारी जरूरतों और कभी कभी गैरजरूरी फरमाइशों को भी पूरा करते हैं वे कभी हमें या परिवार के सदस्यों को किसी भी चीज के लिए तरसने नहीं देते। बच्चे कोई बड़ी से बड़ी गलती भी क्यों न कर दें, पिताजी हमेशा कुछ देर गुस्सा दिखाने के बाद उसे माफ कर देते हैं । पिताजी कभी अपनी कोई तकलीफ नहीं बताते बल्कि वे घर के लोगों की हर जरूरत और तकलीफ का पूरा ध्यान रखते हैं। इन्हीं सब विशेषताओं के कारण पिता की महानता और अधि‍क बढ़ जाती है और उनकी तुलना दुनिया में किसी से भी नहीं की जा सकती। पिता प्रत्येक बच्चे के लिए धरती पर ईश्वर का साक्षात रूप होते हैं। वे अपनी संतान को सुख देने के लिए अपने सुखों को भी भूला देते हैं। वे रात दिन अपने बच्चों के लिए ही मेहनत करते हैं और उन्हें वे हर सुविधा देना चाहते है जो उन्हें भी कभी नहीं मिली। कई बार छोटी सी तनख्वाह में भी बच्चों को अच्छी शि‍क्षा देने के लिए पिता कर्ज में भी डूब जाते हैं लेकिन बच्चों के सामने कभी कोई परेशानी जाहिर नहीं करते … शायद इसीलिए पिता, दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण होते हैं।

 

You Must Read

Jaipur Pink Panthers Team Pro Kabaddi 2017 first match live ... Jaipur Pink Panthers Team, Players squad & Sch...
Rajasthan Board 10th Class Result Name Wise Roll No School w... Rajasthan Board 10th Class Result 2018 Name Wise R...
महाराणा प्रताप कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय उदयपुर के ... महाराणा प्रताप कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय,...
जय नारायण व्यास यूनिवर्सिटी के पाठ्यक्रम विभाग संकाय की पूर्... जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय राजस्थान के जोधपुर ज...
जन्माष्ठमी 2017 पर निबन्ध कविता और देखिए कान्हा के जन्म की प... श्री कृष्ण जन्माष्टमी भगवान श्री कृष्ण का जन्म उत्...
विश्व अंतर्राष्ट्रीय न्याय दिवस 17 जुलाई... अन्तर्राष्ट्री जस्टिस विश्व दिवस, जिसे अंतरराष्ट्र...
RSMSSB Lab Assistant Results 2017 Check Document Verificati... RSMSSB Results 2018  Lab Assistant Document Verifi...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *