Navratri Puja Vidhi Shubh Muhurat 2017 Kalas Sthapana Vrat Katha In Hindi

नवरात्र किन किन देवियों की पूजा होती हैं –

  • 21 सितंबर 2017 मां शैलपुत्री की पूजा 
  • 22 सितंबर मां ब्रह्मचारिणी की पूजा 
  • 23 सितंबर मां चन्द्रघंटा की पूजा 
  • 24 सितंबर मां कूष्मांडा की पूजा 
  • 25 सितंबर मां स्कंदमाता की पूजा 
  • 26 सितंबर मां कात्यायनी की पूजा 
  • 27 सितंबर मां कालरात्रि की पूजा 
  • 28 सितंबर मां महागौरी की पूजा 
  • 29 सितंबर मां सिद्धदात्री की पूजा
  • 30 सितंबर दशमी तिथि, दशहरा

नवरात्र पूजा विधि और पूजन सामग्री

सब से पहले आप सुबह जल्दी उठे अपना नित्य क्रम कर के स्नान करे और बाद में सारे घर या जहाँ आप नवरात्र स्थपाना करना चाहते हैं वहा साफ सफाई करे और और गंगाजल जल और गाय के गोत्र से पुरे घर में छिडकाव करे जिस से घर का शुद्धिकरण हो जाये | शुभ मुहूर्त देखकर लगाया जाता है. माता की चौकी लगाना के लिए भक्तों के पास 21 सितंबर को सुबह 06 बजकर 03 मिनट से लेकर 08 बजकर 22 मिनट तक का समय है. पूजन सामग्री  धूप बत्ती ।(अगरबत्ती),कपूर,केसर,चंदन,यज्ञोपवीत,कुंकु,चावल,अबीर,गुलाल, अभ्रक,हल्दी,आभूषण,नाड़ा,रुई,रोली, सिंदूर,सुपारी, पान के पत्ते,पुष्पमाला, कमलगट्टे,धनिया खड़ा,सप्तमृत्तिका,सप्तधान्य,कुशा व दूर्वा,पंच मेवा,गंगाजल,शहद (मधु),शकर,घृत (शुद्ध घी),दही,दूध,ऋतुफल,नैवेद्य या मिष्ठान्न,इलायची (छोटी),लौंग मौली,इत्र की शीशी,सिंहासन (चौकी, आसन),पंच पल्लव।

कलश को किस दिशा में रखे

एक मिट्टी या किसी धातु के कलश पर रोली से स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं। कलश पर मौली लपेटें। फर्श पर अष्टदल कमल बनाएं। उस पर कलश स्थापित करें| कलश में  गंगाजल, चंदन, दूर्वा, पंचामृत, सुपारी, साबुत हल्दी, कुशा, रोली, तिल, चांदी डालें। कलश के मुंह पर 5 या 7 आम के पत्ते रखें। उस पर चावल या जौ से भरा कोई पात्र रख दें। एक पानी वाले नारियल पर लाल चुनरी या वस्त्र बांध कर लकड़ी की चौकी या मिट्टी की वेदी पर स्थापित कर दें। नारियल को ठीक दिशा में रखना बहुत आवश्यक है। इसका मुख सदा अपनी ओर अर्थात साधक की ओर होना चाहिए। नारियल का मुख उसे कहते हैं जिस तरफ वह टहनी से जुड़ा होता है। पूजा करते समय आप अपना मुंह सूर्योदय की ओर रखें।

नो दिनों तक कैसे करे उपवास

उपवास में आप को निर्धारित करना होता की आप किस समय पूजा करे और खाना कोनसे टाइम खायेंगे आप भोजन में क्या बनवाते हैं और जप कितने टाइम करेंगे ये आप पहले दिन जिस प्रकार करे फिर नो दिनों तक आप टाइम टो टाइम काम करना होता हैं।

नवरात्र में कैसे लगाये माता के भोग

नवरात्रओ में हर दिन आप अलग अलग भोग लगा सकते कैसे लगाये भोग पहले आप पूजा करे और जब पूजा खत्म हो जाये तो आप अखंड दीपक जला कर माता का आवान करे और जब माँ की जोत आने के बाद आप भोग लगा सकते हैं गुड, शक्कर, मावा, मिश्री, हलवा, खीर, आदि।

अखंड ज्योति से क्या होता हैं

अखंड ज्योति जलाने से माँ आप के घर हमेशा कर्पा बनाये रखती हैं और आप की मनोकामना पूरी करती हैं | घर में ख़ुशी का माहोल बना रहता हैं अगर आप उनकी सच्ची श्रद्धा और ईमानदारी से पूजा करेंगे तो आपके सारे कष्ट वैसे ही दूर हो जाएंगे क्योंकि मां का सच्चा भोग भक्ति का प्रेम है और उसकी कृपा ही सच्चा प्रसाद।

कैसे करे नवरात्र समापन दुर्गा विसर्जन

कन्या पूजन के पश्चात एक पुष्प एवं चावल के कुछ दाने हथेली में लें और संकल्प लें|घट यानि कलश में स्थापित नारियल को प्रसाद स्वरूप स्वयं भी ग्रहण करें और परिजनों को भी दें|घट के पवित्र जल का पूरे घर में छिडकाव करें और फिर सम्पूर्ण परिवार इसे प्रसाद स्वरुप ग्रहण करें|घट में रखें सिक्कों को अपने गुल्लक में रख सकते हैं, बरकत होती है|सुपारी को भी परिवार में प्रसाद रूप में बांटें|माता की चौकी से सिंहासन को पुनः अपने घर के मंदिर में उनके स्थान पर ही रख दें|श्रृंगार सामग्री में से साड़ी और जेवरात आदि को घर की महिला सदस्याएं प्रयोग कर सकती हैं|श्री गणेश की प्रतिमा को भी पुनः घर के मंदिर में उनके स्थान पर रख दे|चढ़ावे के तौर पर सभी फल, मिष्ठान्न आदि को भी परिवार में बांटें चौकी और घट के ढक्कन पर रखें चावल एकत्रित कर पक्षियों को दें| माँ दुर्गे की प्रतिमा अथवा तस्वीर, घट में बोयें गए जौ एवं पूजा सामग्री, सब को प्रणाम करें और समुन्द्, नदी या सरोवर में विसर्जित कर दें|

You Must Read

बाल दिवस पर बेस्ट क्योट्स मेसेज विशेस... Bal Divash Best Quotes Message : नमस्कार दोस्तों r...
26 जनवरी गणतन्त्र दिवस 2018 Republic Day पर देश भक्ति कविताए... 26 जनवरी गणतन्त्र दिवस Gantantra Diwas 2018 : 69th...
MDSU University Ajmer महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविधालय की ... MDSU University Ajmer : महर्षि दयानन्द सरस्वती विश...
World Global International Tiger Surveillance Protection Day... ग्लोबल टाइगर दिवस जिसे हम अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस ...
धनतेरस पूजा 2017 धनतेरस के टोटके के बारे में रोचक जानकारी... धनतेरस की पूजा 2017 : हिन्दू धर्म की पौराणिक कथाओं...
Guru purnima gallery photo importance festivals story astrol... आषाढ महीने का अंतिम दिन होता हैं गुरु पूर्णिमा का ...
महात्मा गांधी जयंती पर कविता 02 अक्टूबर गांधी जयंती... दोस्तों 02 अक्टूबर यानि महात्मा गाँधी जयंती 2 अक्ट...
चाचा नेहरु पर लोकप्रिय कविता ‘तुम गौरव थे भारत मां के ... बाल दिवश पर चाचा नेहरु की कविता : भारत देश के पहले...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *