World Population Day विश्व जनसख्या दिवस United Nations Population Fund

11 जुलाई को मनाया जायेगा विश्व जनसख्या दिवस History, Themes, Quotes

पूरी दुनिया में 11 जुलाई को World Population Day के रूप में मनाया जाता हैं इस दिन बड़ती जनसख्या को रोकने के लिये मनाया जाता हें और लोगो को जागरूक करने की एक पहल हैं आज सबसे ज्यादा समस्या का विषय बना हुआ हैं जनसख्या | क्या आप को पता पूरी दुनिया में कुल कितनी जनसंख्या हैं नही पता होगा चलो आज हम आप को बताते हैं दुनिया में कितनी जनसख्या लगभग 7.50 अरब जनसख्या हैं जिस का अधिकांस हिस्सा चीन और भारत में हैं पूरी दुनिया एक तरफ और भारत और चीन एक तरफ हैं| जनसख्या की द्रष्टी से सबसे ज्यादा जनसख्या चीन में और दुसरे नंबर पर भारत का आता हैं

क्यों मनाया जाता हैं जनसख्या दिवस जानिए

समय से पहले माँ बनने के खतरे को लेकर लोगों को शिक्षित करें।

विभिन्न इंफेक्शन से बचने के लिये यौन संबंधों के द्वारा फैलने वाली बीमारियों के बारे में उनको बताना चाहिये।

लड़कियों के अधिकारों को बचाने के लिये कुछ असरदार कानून और नीतियों की माँग हो।

लड़के-लड़कियों की एक-समान प्राथमिक शिक्षा तक पहुँच हो।

हर जोड़े के लिये आधारित प्राथमिक स्वास्थ्य के भाग के रुप में हर जगह जननीय स्वास्थ्य सेवा की आसान पहुँच हों ये लड़का और लड़की दोनों की सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिये मनाया जाता है।

अपनी जिम्मेदारी को पूरी तरह समझने के काबिल होने तक शादी को रोकना तथा लैंगिकता संबंधी पूरी जानकारी देना।

तर्कसंगत और युवा अनुकूलन उपायों के द्वारा अनचाहे गर्भ से बचने के लिये युवाओं को शिक्षित करना चाहिये।

समाज से लैंगिकता संबंधी रुढ़िवादिता को हटाने के लिये लोगों को शिक्षित करना है।

पहली बार कब मनाया गया विश्व जनसंख्या दिवस’

विश्व जनसंख्या दिवस’ वर्ष 1987 से मनाया जा रहा है। 11 जुलाई, 1987 में विश्व की जनसंख्या 5 अरब को पार कर गई थी। तब संयुक्त राष्ट्र ने जनसंख्या वृद्धि को लेकर दुनिया भर में जागरूकता फैलाने के लिए यह दिवस मनाने का निर्णय लिया। क्यूँकि आज दुनिया के हर विकासशील और विकसित दोनों तरह के देश जनसंख्या विस्फोट से चिंतित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.