गांधी जयंती पर हिंदी में निबंध 2 अक्टूबर 2017

दोस्तों : 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती है| हम सभी यहाँ गांधीजी को श्रद्धांजलि देने के लिए इकठे हुए है | हम अपने महान व्यक्ति के बारे में बात करेंगे | जिन्होंने हमें सत्य और अहिशा के मार्ग पर चलाना सिखया था | हम गांधी जयंती को पुरे भारत में एक राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाते हैं | महात्मा गांधी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी है | जिसे हम बापू या राष्ट्रपिता के नाम से भी जानते है |

Rashtrapita Mahatma Gandhi Pictures in HD

गांधी जयंती पर हिंदी में निबंध

2 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है | क्युकी गाँधीजी हमेशा ही अहिंसा के विरुद्ध थे | इसलिए 2 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 2007 में गैर-हिंसा के अंतर्राष्ट्रीय दिवस घोषित किया गया था | गाँधी जी को शांति और सच्चाई के प्रतीक के रूप में भी याद करते | गांधीजी का जन्म एक छोटे से गाँव पोरबंदर गुजरात में 1869 में हुआ था | गाँधीजी वकालत करने इंग्लेंड चले गए वहा से उन्होंने कानून की डिग्री प्राप्त की | इसके बाद वो भारत लोट आये | उसके बाद नौकरी करने दक्षिण अफ्रीका चले गए | दक्षिण अफ्रीका में उन्हें नस्ल भेद का समाना करना पड़ा | गाँधी जी ने अपनी आत्मकथा “सच्चाई के साथ मेरा प्रयोग” नामक अपनी आत्मकथा में अपने जीवन के इतिहास का वर्णन किया । ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारत की आजादी के लिए लड़ते रहे |

गांधी जी सरल जीवन और उच्च सोच वाला व्यक्ति था | गाँधीजी धूम्रपान, अस्पृश्यता और गैर-शाकाहार का विरोधी था | 2 अक्टूबर के दिन भारत सरकार द्वारा शराब की बिक्री पर पूरी तरह से रोक है | गांधी जी सच्चाई और अहिंसा के अग्रणी थे जिन्होंने भारत की आजादी के लिए सत्याग्रह आंदोलन शुरू किया | नई दिल्ली के राज़ घाट पर उनकी प्रतिमा को फूलो से सजाया जाता है | प्रार्थना की जाती है |और उनके पसंदीदा गीत “रघुपति राघव राजा राम, पतित पवन सीता राम …” गाकर श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है |

महात्मा गांधी एक महान व्यक्ति थे | जिन्होंने ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी | गाँधीजी ने न केवल अहिंसा के अद्वितीय विधि का बीड़ा उठाया था | बल्लिक ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारत को स्वतंत्रता प्राप्त करवाकर दुनिया को साबित कर दिया है| कि आजादी अहिंसा के पथ के माध्यम से शांतिपूर्ण ढंग से प्राप्त की जा सकती है | गांधीजी आज भी शांति और सच्चाई के प्रतीक के रूप में जाने जाते है |

You Must Read

Republic Day Parade Rajpath Live Tv 26 January Live Tv On Mo... Hello Friends We Are Wishing You A Very Happy Repu...
Jaipur Army Rally Bhart 2018 ARO Jaipur Army Soldier GD Admi... Jaipur Army Rally Bhart 2018 : indian Army Recruit...
शिक्षक दिनाच्या मराठी मध्ये निबंध आणि भाषण Teacher’s D... शिक्षक दिनाच्या मराठी मध्ये निबंध आणि भाषण Teacher...
विवाह पंचमी 2017 श्रीराम सीता के विवाह के दिन की कथा... विवाह पंचमी 2017 : विवाह पंचमी को एक पर्व के रूप म...
Live Test Match India VS Srilanka latest updates India 600 all out in their 1st innings Sri Lanka ...
2 जुलाई विश्व खेल पत्रकारिता दिवस 2017... International Sports Press Association इंटरनेशनल स...
AP Inter 2nd Year Result 2018 Andhra Pradesh Inter Second Ye... AP Inter 2nd Year Result 2018 : Good Wishes To All...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *