पौख ग्राम पंचायत के सरपंच मूलचंद सैनी को फर्जी डिग्री मामले में सेशन न्यायालय झुंझुनू द्वारा अयोग्य घोषित किया

Ponkh Sarpanch Moolchand saini News राजस्थान के पंचायती राज व्यवस्था में शिक्षा लागू की गई लेकिन लोगों ने उसका भी तोड़ निकाल लिया। फर्जी डिग्री बनवाकर चुनाव मैदान में आये और चुनाव लड़े और बन गए पंच-सरपंच। फर्जी डिग्रियों के आधार पर पंच-सरपंच बनने का खेल अब धीरे-धीरे राजस्थान में भी सामने आ रहा है। अभी तक ऐसे बहुत से पंच व सरपंचों के बारे में शिकायतें मिल चुकी है| जिनकी डिग्रिया फर्जी पाई गई है। इनमें से कई शिकायतें पुरानी है तो कुछ आयोग के पास निरंतर पहुंच रही है। ऐसे में सरकार के पास दुबार चुनवा करवाने के अलवा कोई उपाय नहीं है |

मूलचंद सैनी पर क्या है फर्जी शैक्षणिक मामला

फर्जी शैक्षणिक योग्यता के मामले को लेकर जिला सेशन न्यायालय झुंझुनू द्वारा सुनाये गए एक फैसले में उदयपुरवाटी पंचायत समिति की पौख ग्राम पंचायत के सरपंच मूलचंद सैनी को अयोग्य तथा शुन्य घोषित कर दिया गया है | न्यायालय ने जिला निर्वाचन अधिकारी को आदेश जारी वापस चुनाव करने को कहा है | न्यायाधीश अशोक कुमार जैन ने मंजू देवी की याचिका पर फैसला दिया है | की 23 जनवरी 2015 को मूलचंद सैनी ने सरपंच पद के लिए प्रस्तुत नामाकन में शैक्षणिक योग्यता के फर्जी दस्तावेज़ पेश किये थे | जो 24 जनवरी 2015 को विजयी मूलचंद सैनी के निर्वाचन को अवेध एवं शुन्य घोषित कर पौंख सरपंच सीट को रिक्त घोषित किया जाता है | और दुबारा चुनाव करवाए जाये |

पौख ग्राम पंचायत के आस पास के गांवो के नाम

पौख ग्राम पंचायत के आस पास छोटे बड़े 8 -10 गाँव आते है | जिनमे  मुख्यतय पौंख,नेवरी ,चंवरा, चोफुल्या ,ककराना  किशोरपूरा ,गुडा, आदि गाँव जो 8 गाँवो के नाम  से जाने जाते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.