सलमान खान खुश नही कर पाये अपने फैन्स को ट्यूबलाइट से

Salman Khan Is The Worst Thing About Tubelight

निर्देशक- कबीर खान

स्टारकास्ट- स्व. ओम पुरी, झू झू, मोहम्मद ज़ीशान अयूब, मातिन रे तांगू, शाहरूख खान, सलमान खान, सोहेल खान,

अवधि- 2 घंटा 16 मिनट

निर्माता- सलमान खान

लेखक- कबीर खान

आज ईद के पर्व पर रिलीज करेंगे सलमान खान अपनी मूवी ट्यूबलाइट एक साथ 5526 सिनिमा घरो में दिखाई जायगी अगर आप सलमान खान की फैन हें तो फिल्म का मजा उठाएं

पिछले महीनें ट्यूबलाइट का ट्रेलर रिलीज किया गया था जिस में सलमान खान एक अलग किरदार में नजर आ रहें थे सलमान खान को हम उन की पिछली मूवी में एक जबरदस्त और एक्सन वाले रोल में देखते आये हें लेकिन ट्यूबलाइट फिल्म में वह एक अलग रोल में किरदार निभा रहें जिस में सलमान खान एक मंद बुध्दि व्यक्ति का रोल निभा रहें आपके लिए ‘ट्यूबलाइट’ मूवी का रिव्‍यू. ‘ट्यूबलाइट’ चीन बॉर्डर पर बसे एक गांव में रहने वाले दो भाइयों की कहानी है, जिनमें एक है लक्ष्मण (सलमान खान) और दूसरा भरत (सोहेल खान) यह दोनों भाई अपने माता-पिता की मौत के बाद एक अनाथ आश्रम में पले-बड़े हैं. लक्ष्मण को गांव में सब ‘ट्यूबलाइट’ बुलाते हैं क्योंकि उसमें सोचने समझने की शक्ति कम है.

अच्छी बातें-

सलमान खान का कभी ना देखा गया अवतार, कुछ एक इमोशनल सीन्स, फिल्म के लोकेशन, शाहरूख खान कैमियो इस फिल्म में सलमान के किरदार को काफी परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है। जिसकी यात्रा कुछ अच्छी तो कुछ बुरी होगी। कबीर खान के निर्देशन में बनी इस फिल्म में फैंस सलमान को बिलकुल अलग किरदार में देखेंगे।

ट्यूबलाइट’ हॉलिवुड फिल्म ‘लिटल बॉय’ से इंस्पायर्ड है

अलेजांद्रो मॉन्टवर्द ने निर्देशित किया है। यह बहुत ही सादगी से कही गई कहानी है। कहानी का बैकग्राउंट एक बहुत ही खूबसूरत उत्तर-पूर्वी भारत के शहर जगतपुर से शुरू होती है। कहानी उस दौर की है जब भारत और चीन के बीच युद्ध छिड़ा हुआ था। इस फिल्‍म की कहानी 1962 के भारत चीन युद्ध के दौरान की बनाई गई है, जिसके चलते नौजवानों को सेना में भर्ती किया जा रहा है और इसी वक्‍त भरत भी सेना में भर्ती हो जाता है. ऐसे में भरत को अपने भाई लक्ष्‍मण की चिंता होती है जो उसके जाने के बाद अकेला पड़ जाएगा. लेकिन फिर भी भरत, युद्ध में जाने का फैसल करता है. पर क्या वह वापस आएगा? इसी यकीन और विश्वास पर ही टिकी है ‘ट्यूबलाइट’ की कहानी.

संगीत-

फिल्म का संगीत दिया है प्रीतम ने। रेडियो और तिनका तिनका गाना फिल्म रिलीज से पहले ही लोगों के जुबां पर चढ़ चुका है। लिहाजा, फिल्म में भी आप इन्हीं दो गानों पर ध्यान दे पाएंगे। लेकिन फिल्म की कहानी इतनी कमज़ोर है कि संगीत भी प्रभावी नहीं लगता।

क्या क्या बुरी बात हें  फिल्म ट्यूबलाइट

फिल्म की कहानी बहुत इमोशनल है, जो कि सलमान खान को उनके टिपिकल अंदाज से काफी अलग दिखाती है। बुरी बातें- फिल्म की पटकथा काफी बिखरी सी है, कई भावुक सीन हैं जो आपके दिल तक पहुंच नहीं पाएंगे, फिल्म का क्लाईमैक्स सलमान की मसाला फिल्मों जैसी यह फिल्म नहीं है। इस वजह से हो सकता है कि एक खास तरह की ऑडियंस को ही यह पसंद आए। फिल्म में बहुत सारे इवेंट्स अलग-अलग टाइम पर होते रहते हैं, जिनके बीच सामंजस्य और फ्री फ्लो देखने को नहीं मिलता और कहानी काफी बिखरी बिखरी सी नजर आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.