2 अक्टूबर महात्मा गाँधी जयंती पर भाषण छात्रों और अध्यापको के लिय

सादर माननीय शिक्षकगण Teacher’s और मेरे प्यारे सहपाठियों जैसा की आप जानते है की 02 अक्टूबर को महत्मा गाँधी का जन्म दिवस मनाने के लिए हम सभी यहाँ इकठे हुए है | में आप को बतादू की गाँधी जयंती (Gandhi Jaynti )हमारे देश में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व में अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाई जाती है | क्योंकि गांधीजी अपने पूरे जीवनभर में अहिंसा के एक पथ-प्रदर्शक के रूप माने जाते है |

Gandhi Jayanthi Speech

महात्मा का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गाँधी है | परन्तु हम गांधीजी को अन्य नामो से भी जानते है जैसे बापू व राष्ट्रपिता और महात्मा गाँधी के नाम से भी जानते है । उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के छोटे से गाँव पोरबंदर में हुआ था। महात्मा गांधी के पिता का नाम करमचंद गांधी, और माता का नाम पुतलीबाई जो एक धार्मिक महिला थी | 2 अक्टूबर के दिन नई दिल्ली के राजघाट पर महात्मा गाँधी की समाधि स्थल पर भारत के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के द्वारा उनकी मूर्ति पर प्रार्थना, फूल, मोमबत्ती जलाकर श्रद्धाजलि अर्पित की जाती है। गाँधी जयंती भारत के सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में गाँधीजी को उनके महान कार्यो के लिय याद करने के लिये मनायी जाती है |

महात्मा गाँधी ने हमेशा सभी धर्मों और समुदायों को एक नजर से देख व सम्मान दिया। 2 अक्टूबर के दिन पर पवित्र और धार्मिक किताबों का अध्यन किया जाता है | खासतौर से गाँधीजी का सबसे प्रिय भजन “रघुपति राघव राजा राम”। देश के राज्यों और राजधानियों में प्रार्थना सभाएँ रखी जाती है। इस दिन भारत सरकार के द्वारा राष्ट्रीय अवकाश के रुप में घोषित कर रखा है | इस दिन सभी सरकारी व अर्द्सरकारी स्कूल, कॉलेज, कार्यालय आदि पूर्णतय बंद रहते हैं|

महात्मा गाँधी को एक महान व्यक्ति की उपाधि डी गयी है |महात्मा गाँधी ने ब्रिटिश शासन से भारत की आजादी को प्राप्त करने में बहुत संघर्ष किया । वह ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारत के लिये आजादी प्राप्त करने के अहिंसा के अनोखे तरीके के केवल पथ-प्रदर्शक ही नहीं थे बल्कि उन्होंने दुनिया को साबित किया कि अहिंसा के पथ पर चलकर शांतिपूर्ण तरीके से भी आजादी ली जा सकती है। महात्मा गाँधी आज भी हमारे बीच शांति और सच्चाई के प्रतीक के रुप में याद किये जाते हैं और किये जायेंगे ।

जय हिन्द , जय भारत

गाँधी जयंती पर भाषण हिंदी में Speech on Gandhi Jaynti in Hindi

माननीय शिक्षकगण और मेरे प्रिय मित्रो आज हम बात करेंगे एक महान व्यक्ति की जिसने हमें अहीसा के उपर चलकर जीना सिखया था | उस महान व्यक्ति का नाम है महात्मा गाँधी जिसकी पुण्य तिथि 02 अक्टूबर को मनाई जाती है |में आप को बताना चाहता हु की महात्मा गांधी का जन्म गुजरात के पोरबंदर नामक गाँव में 2 अक्टूबर, 1896 को करमचंद गांधी व उनकी पत्नी पुतलीबाई के घर में हुआ था | महात्मा गाँधी ने अपनी प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा पूरी करने के बाद गाँधी जी ने कानून की पढाई करने के लिए 1888 में इंग्लैंड चले गए | चार वर्ष तक इंग्लेंड में रहकर 1891 में क़ानून की डिग्री पास कर वापस भारत लोट आये |

इंग्लेंड से लोटने के बाद काम की तलास में गाँधी जी दक्षिण अफ्रीका चले गए | वहा काम करने का अवसर मिला | दक्षिण अफ्रीका में भारतीय वकीलों की भारी मांग थी | उन दिनों में दक्षिण अफ्रीका में जातिवाद प्रचलित था | गांधीजी भी इस जातिवाद के सिकार हो गए | जब गाँधी जी प्रथम श्रेणी का टिकट लेकर यात्रा कर रहे थे तो उन्हें चलती ट्रेन से बहार निकल दिया गया था | तब गाँधीजी को बहुत ढेस पंहुचा | तब से ही उन्होंने जातिवाद की सामाजिक बुराई का विरोध करना शुरू कर दिया|

गाँधीजी 1915 में भारत वापस आ गए वापिस आने के बाद गांधीजी ने गोपाल कृष्ण गोखले से मुलाकात कर भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के आंदोलनों के बारे में बात की और खुद भारतीय राष्ट्रीय कोंग्रेस में सामिल हो गए और भारत में ब्रिटिश शासन के खिलाफ आवाज उठाई | गांधीजी ने 1920 में गैर सहयोग क्षण शरु किया | जिसमे कहा गया की कोई भी भारतीय ब्रिटिश के किसी भी काम में सहयोग न करें | 1930 में में गांधीजी ने 400 किलोमीटर लम्बी दांडी मार्च बनाया | गाँधी जी ने नमक उत्पादन के खिलाफ ब्रिटिश के कानून को तोड़ दिया| 1942 में गाँधी जी ने “भारत छोड़ो आंदोलन” चलाया गया | जिसके द्वारा यह सन्देश दिया गया की अंग्रेजो हम देश का शासन करने में सक्षम हैं | इन सभी बातो को देखते हुए ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के पैर वापस खीचने लगे | अंत में भारत 15 अगस्त 1947 को आज़ाद हो गया |

You Must Read

ICSE 10th Result ISC Class 12 Result 2018 Declared on 14 May... ICSE 10th Result ISC Class 12 Result 2018: All the...
MGSU BSC 1st 2nd 3rd Revaluation Online Form 2018 Rechecking... MGSU BSC Revaluation Online Form 2018 Rechecking R...
शिक्षक दिवस पर बेस्ट स्कूली कविता और गीत... शिक्षक दिवस पर बेस्ट स्कूली कविता और गीत : भारत के...
PSTET Admit Card TET Punjab Permission Letter 2018 Education... Hello Greeting To All PSTET Applicant After a Long...
Republic Day Parade Rajpath Live Tv 26 January Live Tv On Mo... Hello Friends We Are Wishing You A Very Happy Repu...
RRB Assistant Station Masters Job Profile Salary Per Month ... RRB Assistant Station Masters Job Profile Salary ...
Maharashtra SSC Result 2018 Maha Board 10th Class Results de... Maharashtra SSC Result 2018 Declare Maharashtra S...
मुहर्रम ताजिया 2017 ताजिया का महत्व और मोहर्रम का इतिहास... सिया मुस्लिम मुहर्रम को बड़े ही शोक से मानते है | म...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *