द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय / जीवन कहानी Draupadi Murmu Biography in Hindi

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय / जीवन कहानी Draupadi Murmu Biography in Hindi Draupadi Murmu Age DOB Qualification Political Career Salary Award Draupadi Murmu Husbnad Son Daughter Fathers Mothers Name. इन दिनों सोसिला मीडिया पर द्रौपदी मुर्मू का नाम काफी ट्रेंड में है | और सभी की जानने की जिज्ञासा भी है द्रौपदी मुर्मू कौन है? द्रौपदी मुर्मू जीवनी, जाति, उम्र, पति, सैलरी, बेटी, बेटा, शिक्षा, जन्म तारीख, परिवार, पेशा, धर्म, पार्टी, करियर, राजनीति, अवार्ड्स इत्यादि | बतादे आप इस आर्टिकल में द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय / जीवन कहानी अर्थात द्रौपदी मुर्मू के जीवन से जुडी हर एक बात जान सकते है |

Draupadi Murmu Biography in Hindi

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय जीवन कहानी Draupadi Murmu Biography Life Story in Hindi

Contents

आदिवासी समुदाय से संबंध रखने वाली और उड़ीसा राज्य में पैदा हुई द्रौपदी मुर्मू को हाल ही में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा भारत के अगले राष्ट्रपति के पद के उम्मीदवार के तौर पर चुना गया है | यही वजह है जिसके कारण सभी लोग द्रौपदी मुर्मू के बारे में जानना चाहते हैं | आज हम आपको राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू की वो अनसुनी कहानी बताते हैं, जिसे सुन कर आज देश की हर महिला भावुक भी होगी और उत्साहित भी होगी | जो एक आम नागरिक की तरह दिन रात मेहनत करके अपने परिवार का पेट पाला और आज राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार के रूप में चुनी गई |

द्रौपदी मुर्मू की जन्मतिथि, जन्म स्थान Draupadi Murmu Date of Birth & Birth Village Tehasil District State 

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले के ऊपरबेड़ा गांव में एक आदिवासी परिवार में हुआ |

द्रौपदी मुर्मू के माता-पिता का नाम, पति, बेटे, बेटी का नाम Draupadi Murmu Husband Son Daughter Fathers Mothers Name

द्रौपदी मुर्मू आदिवासी संथाल परिवार से ताल्लुक रखती हैं | उनके पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू है | द्रौपदी मुर्मू का विवाह श्याम चरण मुर्मू से हुआ था | शादी के बाद उनके दो बेटे और एक बेटी हुई | लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही उन्होंने पति और अपने दोनों बेटों का निधन हो गया | उनकी बेटी इतिश्री की शादी गणेश हेम्ब्रम से हुई है |

Sonu Sood Biography in Hindi बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद की जीवनी जीवन कहानी

द्रोपदी मुर्मू की शिक्षा Draupadi Murmu Education

द्रौपदी मुर्मू ने प्रारम्भिक शिक्षा अपने ही क्षेत्र में स्थित एक विद्यालय से प्राप्त की | प्रारंभिक पढ़ाई पूरी होने के बाद वह आगे की पढाई के लिए यानि ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए भुवनेश्वर शहर चली गई | उन्होंने भुवनेश्वर के रामादेवी महिला कॉलेज से आर्ट्स में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की। इसके बाद उन्हें ओडिशा सरकार के सिंचाई और बिजली विभाग में एक जूनियर असिस्टेंट यानी कलर्क के रूप में नौकरी मिली | इन्होंने यह नौकरी साल 1979 से लेकर के साल 1983 तक पूरी की | इसके बाद इन्होंने साल 1994 से 1997 तक रायरंगपुर में श्री अरबिंदो इंटीग्रल एजुकेशन सेंटर में मानद सहायक शिक्षक के रूप में काम किया |

Major Dhyan Chand Biography In Hindi Great Hockey Player मेजर ध्यानचंद की जीवन कहानी जीवनी

द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक जीवन Draupadi Murmu Political Career

  • द्रौपदी मुर्मू ने साल 1997 में ओडिशा के रायरंगपुर नगर पंचायत में एक पार्षद के रूप में अपना राजनीतिक करियर शुरू किया |
  • साल 2002 से लेकर के साल 2009 तक मयूरभंज जिला भाजपा का अध्यक्ष बनने का मौका भी मिला |
  • उड़ीसा गवर्नमेंट में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर पर द्रौपदी मुर्मू को साल 2000 से लेकर के साल 2004 तक ट्रांसपोर्ट और वाणिज्य डिपार्टमेंट संभालने का मौका मिला |
  • इन्होंने साल 2002 से लेकर के साल 2004 तक उड़ीसा गवर्नमेंट के राज्य मंत्री के तौर पर पशुपालन और मत्स्य पालन डिपार्टमेंट को भी संभाला |
  • साल 2002 से लेकर के साल 2009 तक यह भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मेंबर भी रही |
  • साल 2004 में यह रायरंगपुर विधानसभा से विधायक बनने में भी कामयाब हुई और आगे बढ़ते बढ़ते साल 2015 में इन्हें झारखंड जैसे आदिवासी बहुल राज्य के राज्यपाल के पद को संभालने का भी मौका मिला |
  • भारतीय जनता पार्टी के एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष के पद को इन्होंने साल 2006 से लेकर के साल 2009 तक संभाला |
  • एसटी मोर्चा के साथ ही साथ भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मेंबर के पद पर यह साल 2013 से लेकर के साल 2015 तक रही |
  • द्रौपदी मुर्मू भारतीय जनता पार्टी की ओडिशा इकाई की अनुसूचित जनजाति मोर्चा की उपाध्यक्ष और बाद में अध्यक्ष भी रहीं |
  • उन्हें 2013 में बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी (एसटी मोर्चा) के सदस्य के रूप में भी नामित किया गया था |
  • झारखंड के राज्यपाल के पद को उन्होंने साल 2015 में प्राप्त किया और यह इस पद पर साल 2021 तक विराजमान रही |
द्रौपदी मुर्मू के बेटे व पति की मौत कब, कहाँ और कैसे हुई
  • वर्ष 2009 में द्रौपदी मुर्मू ने अपने 25 साल की उम्र के एक बेटे की असमय मौत हो गई थी |
  • वर्ष 2013 में एक सड़क दुर्घटना मे उनके दूसरे बेटे की भी मृत्यु हो गई | सिर्फ चार वर्षों में उन्होंने एक के बाद एक अपने दोनों बेटों को खो दिया |
  • 2013 में उनके दूसरे बेटे की मृत्यु के कुछ दिन बाद उनकी मां और उनके भाई का भी देहांत हो गया |
  • वर्ष 2014 में द्रौपदी मुर्मू के पति श्याम चरण मुर्मू का देहांत हो गया |

Charanjit Singh Channi Biography Wikipedia चरणजीत सिंह चन्नी की जीवनी जीवन परिचय

झारखंड की पहली महिला राज्यपाल बनने का गौरव

द्रौपदी मुर्मू के नाम झारखंड की पहली महिला राज्यपाल बनने का भी गौरव हासिल है | अगर, वह राष्ट्रपति के लिए चुनी जाती हैं तो आजादी के बाद पैदा होने वाली पहले राष्ट्रपति भी होंगी | द्रौपदी मुर्मू झारखंड में सबस अधिक समय तक राज्यपाल के पद पर आसीन रहीं |

सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए मिला था नीलकंठ पुरस्कार

द्रौपदी मुर्मू को साल 2007 में ओडिशा विधानसभा द्वारा साल के सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए नीलकंठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया था | उनके पास ओडिशा सरकार में परिवहन, वाणिज्य, मत्स्य पालन और पशुपालन जैसे मंत्रालयों को संभालने का अनुभव है |

Harnaaz Sandhu Biography In Hindi मिस यूनिवर्स 2021 हरनाज़ संधू का जीवन परिचय जीवन कहानी

राष्ट्रपति के पिछले चुनाव में भी चर्चा में थीं द्रौपदी मुर्मू

राष्ट्रपति के पिछले चुनाव में भी द्रौपदी मुर्मू का नाम प्रमुख दावेदार के रूप में उभरा था | इसके पीछे उनके कार्यों और उनकी सादगी का तर्क दिया जा रहा था | हालांकि अंत में एनडीए ने वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द को अपना प्रत्याशी बनाया |

पूरे राजभवन में लगाया मांसाहार पर प्रतिबंध

द्रौपदी मुर्मू शाकाहारी हैं + अपने कार्यकाल में उन्होंने पूरे राजभवन में मांसाहार पर प्रतिबंध लगाया था | राजभवन परिसर में रहनेवाले पदाधिकारियों व कर्मियों के आवासों में भी मांस-मछली का बनना प्रतिबंधित था |

कार्यकाल पूरा होने पर मिली अभूतपूर्व विदाई

झारखंड में राज्यपाल के तौर पर द्रौपदी मुर्मू का कार्यकाल पूरा होने के बाद उन्हें अभूतपूर्व विदाई मिली | प्रदेश में झामुमो की सरकार बनने के बावजूद उन्हें यह सम्मान मिल्ला | मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने परिवार के साथ मिलकर बेहद आत्मीय तरीके से उन्हें विदा किया |

द्रौपदी मुर्मू द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में उठाए गए कदम
  • झारखंड की राज्यपाल के रूप में द्रौपदी मुर्मू हमेशा यहां के आदिवासियों तथा छात्राओं के हितों के लिए सजग और तत्पर रही | इसे लेकर कई बार उन्होंने राजभवन में विभिन्न विभाग के पदाधिकारियों को बुलाकर आवश्यक निर्देश दिए |
  • कुलाधिपति के रूप में भी द्रौपदी मुर्मू ने उच्च शिक्षा के विकास में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए। इसमें चांसलर पोर्टल शुरू करना भी इनकी बड़ी उपलब्धि थी, जिसमें सभी विश्वविद्यालयों को एक प्लेटफार्म पर लाकर एक साथ नामांकन से लेकर, निबंधन और परीक्षा के फार्म भरने की प्रक्रिया शुरू की गई | इनके कार्यकाल में विश्वविद्यालयों में गुणी व अनुभवी कुलपतियों और अन्य पदाधिकारियों की नियुक्ति हुई |
  • झारखंड की पहली महिला राज्यपाल के रूप में उन्होंने जमशेदपुर में महिला विश्वविद्यालय की स्थापना को लेकर प्रयास किए, जिसके बाद जमशेदपुर महिला कालेज को विश्वविद्यालय के रूप में अपग्रेड किया गया |
  • द्रौपदी मुर्मू पहली राज्यपाल थीं, जिन्होंने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में जाकर वहां पढ़ाई कर रहीं छात्राओं की समस्याओं को जानने का प्रयास किया | साथ ही उनकी समस्याओं के समाधान को लेकर संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को सख्त निर्देश दिए |

सभी देवी-देवताओ पर शायरी फोटो डाउनलोड करने, पशु-पक्षियों जिव-जंतुओ व प्रकृति से मिलने वाले शुभ-अशुभ संकेतो और राष्ट्रीय व अंतराष्ट्रीय स्तर पर मनाए जाने वाले Events & Festival से सम्बंधित बधाई/शुभकामना सन्देश, शायरी FB Whatsapp Status Instagram Caption, Full HD Wallpaper Photo images DP Profile Pics इत्यादि डाउनलोड करने के लिए विजिट करे www.Rkalert.in पर | और सबसे पहले Shayari, Photo, Status डाउनलोड करने के लिए निचे दी गई Rkalert.in के सोशल मीडिया पेज को Follow व ग्रुप Join करे |

Follow On FacebookClick Here
Join Facebook GroupClick Here
Follow On TwitterClick Here
Subscribe On YouTubeClick Here
Follow On InstagramClick Here
Join On TelegramClick Here

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.