15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस का महत्व विशेष कार्यक्रम और निबंध

15 अगस्त 1947 का दिन भारतीय इतिहास का महत्वपू्र्णं दिन था |इस दिन को हर साल भारत में स्वतंत्रता दिवस के रुप में मनाया जाता है। क्युकी इस दिन भारत देश आजाद हुआ था और नये देश का आगाज़ हुआ था | 15 अगस्त 1947 को जब हमारे भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना सब कुछ न्योछावर कर भारत देश के लिये लड़ाई लड़ कर आजादी हासिल की थी । 15 अगस्त 1947 को भारत की आजदी के साथ ही भारतीयों ने अपने प्रथम प्रधानमंत्री का चुनाव पंडित जवाहर लाल नेहरु के रुप में किया था | जिन्होंने भारत की राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली के लाल किले पर तिरंगे झंडे को पहली बार फहराया था । आज हर भारतीय 15 अगस्त को खास दिन एवं उत्सव के रूप में मनाता है।

लाल किले पर विशेष कार्यक्रम Special program on Red Fort (Lal Kila)

15 अगस्त 1947 को भारत की आजादी का दिन होने के कारण खास दिन है | हर साल भारत में स्वतंत्रता दिवस के रुप में मनाया जाता है। इस दिन नई दिल्ली में राष्ट्रीय स्तर पर बहुत सारे कार्यक्रम आयोजित किये जाते है जिसमें भारत के प्रधानमंत्री द्वारा लाल किले पर झंडा फहराया जाता है तथा लाखों लोग स्वतंत्रता दिवस उत्सव में शामिल होते है। लाल किले पर उत्सव के दौरान, झंडारोहण होने के बाद राष्ट्रगान होता है| इस के बाद प्रधानमंत्री लाल किले पर देश को भाषण द्वारा संबोधन करते है | प्रधानमंत्री के भाषण के बाद तीनों भारतीय सेनाओं जल ,थल और वायु सेनाओ द्वारा अपनी ताकत का प्रदर्शन किया जाता है| इसके साथ ही कई रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये जाते हैं जैसे भारत के राज्यों द्वारा झाकिंयों के माध्यम से अपनी कला और संस्कति का प्रदर्शन किया जाता है| और स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कतिक कार्यक्रम का प्रदर्शन किया जाता है ।इस खास दिन के अवसर पर हम भारत के उन महान हस्तियों को याद करते है जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए महत्वपूर्णं योगदान दिया।

15 अगस्त 2017 स्वतंत्रता दिवस पर निबंध Essay on Independence Day

भारत की अंग्रेजी शासन से आजादी मिलने के अवसर पर स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त ) को सभी भारतीयों के लिये यह महत्वपूर्णं दिवस है। हम इस दिवस को हर साल 15 अगस्त के दिन मानते है | आजादी के इस पर्व 15 अगस्त को सभी भारतीय अपने-अपने तरीके से मनाते है, जैसे उत्सव की जगह को फूलो आदि से सजाना, अपने घरों पर राष्ट्रीय झंडे को लगा कर, राष्ट्रगान और देशभक्ति गीत गाकर, तथा कई सारे सामाजिक क्रियाकलापों में भाग लेकर। राष्ट्रीय गौरव के इस पर्व को भारत सरकार द्वारा बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री द्वारा दिल्ली के लाल किले पर झंडा फहराया जाता है और उसके बाद इस उत्सव को और खास बनाने के लिये भारतीय सेनाओं द्वारा परेड, विभिन्न राज्यों की झांकियों की प्रस्तुति, और राष्ट्रगान की धुन के साथ पूरा वातावरण देशभक्ति से सराबोर हो उठता है। राज्यों में भी स्वतंत्रता दिवस को इसी उत्साह के साथ मनाया जाता है जिसमें राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्री मुख्य अतिथी के तौर पर होते है।

भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति की पहल 1857 की क्रांति के साथ में हुई थी । जिसमे खुदीराम बोस, सुभाषचन्द्र बोस, भगत सिंह, चन्द्रशेखर आजाद, महात्मा गाँधी और जवाहरलाल नेहरू ने इस पहल को अपने गर्मजोसी भाषणों से इतनी गहरी चिंगारी भर दी की प्रत्येक भारतीय के हृदय में यह आग सी जल उठी और शोला बनकर अंग्रेंजों पर गिर पड़ी । जिसमे हजारों देशभक्तों की कुर्बानी हुई थी | इतना ही नहीं इस स्वतंत्रता आन्दोलन में महारानी लक्ष्मीबाई और सरोजिनी नायडू जैसी नारियाँ ने भी अपने सहयोग से पीछे नहीं रही | जब जाकर भारत देश 15 अगस्त 1947 को आजाद भारती बना था | इतना ही नहीं इसके बाद देश की शासन व्यवस्था को चलाने के लिए एक बोर्ड का गठन किया गया था जिसमे डॉ॰ राजेन्द्र प्रसाद को देश के प्रथम राष्ट्रपति बनाया गया था | और पंडित जवाहरलाल नेहरू को देश का प्रथम प्रधानमंत्री बनाया गया । भारत देश सोने की चिड़िया कहलाने वाले देश था जिसे अंग्रेजो ने आपसी फुट के कारण गुलाम बनवा लिया था । इस देश का वैभव, संस्कृति, ज्ञान, धर्म, दर्शन पहले मुसलमानों की और बाद में अंग्रेजों की भेंट चढ़ गए ।

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह

हर वर्ष 15 अगस्त मुख्य समारोह लाल किले पर होता है । प्रधानमंत्री के वहाँ पर तीनों सेना के मुख्याध्यक्ष उन्हें सलामी देते हैं । प्रधानमंत्री लाल किले पर भारत का तिरंगा फहराते हैं । भारतीय ध्वज के सम्मान के लिय लाल किले पर 21 तोपों की सलामी दी जाती है । प्रधानमंत्री राष्ट्र के नाम संदेश में देश की उन्नति और भविष्य की योजनाओं के बारे में राष्ट्र को बताते हैं । इस अवसर पर देश के गणमान्य व्यक्तियों के अतिरिक्त विदेशी अतिथि भी होते हैं । भाषण की समाप्ति पर तीन बार ‘जय हिन्द’‘जय हिन्द’‘जय हिन्द’के नारों के साथ राष्ट्रीय गीत गाया जाता है |

15 अगस्त के बारे में और अधिक जानकारी के लिए याह क्लिक करे 

You Must Read

Rajasthan Police Constable 15 July Exam Cancelled News ̵... Rajasthan Police Constable 15 July Exam Cancelled ...
छठ पूजा कब हैं छठ पूजा का व्रत करने का क्या महत्व हैं... छठ पूजा महोत्सव : छठ पर्व उत्सव 26 अक्टूबर 2017 को...
IBPS RRB 2017 Online Registration From on 24th July 2017 at ... Regional rural banks (RRB)Banking Personnel Select...
क्रिसमस डे 2017 25 दिसम्बर ईसा मसीह का जन्म दिवस... क्रिसमस डे christmas day 2017 : क्रिसमस एक ऐसा पर्...
गुरु पूर्णिमा पर कविता, दोहा, निबंध, गुरु महिमा... गुरु पूर्णिमा पर निबंध हमारे यहाँ एक कहावत बोलते ...
शिक्षक दिवस पर बेस्ट स्कूली कविता और गीत... शिक्षक दिवस पर बेस्ट स्कूली कविता और गीत : भारत के...
क्रष्ण जन्माष्ठमी 2017 दही हांड़ी उत्सव और कान्हा की फोटो वॉल... दही हंडी उत्सव : हिंदू त्योहार जन्माष्ठमी 2017...
RSMSSB Stenographer Exam syllabus 2018 Download Official Ste... RSMSSB Stenographer Exam syllabus 2018 राजस्थान अध...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *