मुस्लिम महिला अधिकार दिवस 01 अगस्त 2020 को तीन तलाक की पहली वर्षगांठ पर Muslim Mahila Adhikar Diwas मनाया

Muslim Mahila Adhikar Diwas 01 August 2020 तीन तलाक की पहली वर्षगांठ पर Muslim Women Celebrate Muslim Mahila Adhikar Diwas मुस्लिम महिला अधिकार दिवस : तीन तलाक ख़त्म करने की पहली वर्षगांठ पर अल्पसंख्यक मुस्लिम महिलाओ ने Muslim Mahila Adhikar Diwas मनाया | पिछले साल 31 जुलाई को 2019 को ट्रिपल तालक को समाप्त करने और एक आपराधिक अपराध बनाने के लिए संसद द्वारा अध्यादेश और विधेयक पारित किया गया था जिसे अगले दिन 01 अगस्त 2019 को राष्ट्रपति की सहमति प्राप्त हुई | भारतीय जनता पार्टी ने मुस्लिम महिला अधिकार संरक्षण विधेयक के ऐतिहासिक वर्ष के पहले वर्षगांठ को मुस्लिम महिला अधिकार दिवस Muslim Mahila Adhikar Diwas के रूप में मनाने का फैसला किया है | मुस्लिम समुदाय द्वारा यह दिन मुस्लिम महिला अधिकार दिवस या Muslim Mahila Diwas के रूप में मनाया जा रहा है | तीन तलाक के खात्मे को एक साल पूरा होने पर सरकार ने मुस्लिम महिला अधिकार दिवस मनाया और देश की सभी मुस्लिम महिलाओं ने मोदी सरकार को उनके हितों की रक्षा के लिए किए गए फैसलों को लेकर शुक्रिया कहा |

तीन तलाक की पहली वर्षगांठ पर मुस्लिम महिला अधिकार दिवस मनाया

तीन तलाक पर रोक के कानून को एक साल पूरा होने के मौके पर आज 01 अगस्त को मुस्लिम महिला अधिकार दिवस मनाया जा रहा है | एक अगस्त वह दिन है, जब मुस्लिम महिलाओं को 3 तलाक की सामाजिक बुराई से मुक्ति मिली और इसे देश के इतिहास में ‘मुस्लिम महिला अधिकार दिवस’ Muslim Women’s Rights Day के तौर पर दर्ज किया गया | एक साल पहले, नरेंद्र मोदी सरकार ने ट्रिपल तालक पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक ऐतिहासिक कानून बनाया, जो लैंगिक न्याय, इक्विटी और महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए हमारे प्रयासों में एक ऐतिहासिक कदम है | अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय इस अवसर को ‘मुस्लिम महिला दिवस’ (मुस्लिम महिला अधिकार दिवस) कह रहा है |

भारतीय जनता पार्टी ने भी सोशल मीडिया पर एक हैशटैग ट्रेंड करना शुरू कर दिया है – #ThanksModiBhaiJaan – मुस्लिम महिलाओं के वीडियो के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार को तत्काल तालक की सदियों पुरानी प्रथा को खत्म करने के लिए धन्यवाद दिया | तीन तलाक को ख़त्म करना सरकार का लैंगिक समानता सुनिश्चित करने के लिए यह एक बड़ा कदम है | यदि मुस्लिम व्यक्ति अपनी पत्नी को तत्काल तलाक देता है तो उसे तीन साल की जेल का प्रावधान है | जानकारी के लिए बतादे की ट्रिपल तालाक बिल पहली बार दिसंबर 2017 में मोदी सरकार द्वारा पेश किया गया था लेकिन विपक्षी दलों द्वारा इस बिल का बहुत विरोध किया गया | तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाए जाने के एक साल होने पर अर्थात पहली वर्षगांठ मुस्लिम महिला अधिकार दिवस Muslim Mahila Adhikar Diwas के रूप में मनाई जा रही है |

मुस्लिम महिला अधिकार दिवस पर मुख्तार अब्बास नकवी का ट्विट

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को कहा कि मोदी सरकार ‘सियासी शोषण’ नहीं बल्कि ‘समावेशी सशक्तिकरण’ के संकल्प के साथ काम करती है और तीन तलाक को खत्म करके मुस्लिम समाज की आधी आबादी को सम्मान, सुरक्षा और समानता दिलाने का काम किया है

Muslim Mahila Adhikar Diwas FAQs

Q. 1 – Muslim Mahila Adhikar Diwas Kab Manaya Jata Hai ?
मुस्लिम महिला अधिकार दिवस 01 अगस्त को मनाया जाता है |

Q. 2 – Muslim Mahila Adhikar Diwas Kyo Manaya Jata Hai ?
31 जुलाई को 2019 को ट्रिपल तालक को खत्म करने का संसद द्वारा विधेयक पारित किया गया था और 01 अगस्त को राष्ट्रपति की सहमति प्राप्त हुई | इसलिए 01 अगस्त को मुस्लिम महिला अधिकार दिवस मनाया जाता है |

Q. 3 – Muslim Mahila Adhikar Diwas Date ?
01 August

Q. 4 – First Muslim Mahila Adhikar Diwas Kab Manaya Gaya ?
01 August 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.