Navratri Me Kanya Pujan Kaise Kare ? Kanya Pujan ka Samay, Kanya Pujan Samagri नवरात्री कन्या पूजा गिफ्ट OR नवरात्री कन्या भोजन

Navratri Me Kanya Pujan Kaise Kare ? Navratri Kanya Pujan ka Samay, Navratri Kanya Pujan Samagri Navratri kanya puja food Navratri kanya gift OR Navratri Kanya pujan ke baad kya kare ? शुभ नवरात्री ! नवरात्री में माँ दुर्गा के नों रूपों की पूजा करने की बाद, आखिरी नवरात्रा के दिन नवरात्री कन्या भोजन का आयोजन किया जाता हैं इस दिन नों कंवारी कन्याओं को माँ दुर्गा के नों अवतार मानकर उनकी बड़ी ही सिद्दत से पूजा की जाती हैं | आज में इस आर्टिकल के माध्यम से बताऊंगा, Navratri Me Kanya Pujan Kaise Kare (नवरात्री में कन्या पूजन कैसे करे ?) Navratri kanya puja date Kanya Pujan ka Samay OR Navratri Kanya Poojan Samgari, Navratri kanya puja food नवरात्री में कन्याओं के लिए भोजन में क्या बनाये? और भोजन करने के बाद Navratri kanya gift क्या दे? इन सब बातों का अध्ययन हम निचे दिए गये पैराग्राफ में करेंगे | जो माता बहन , और भाई Sardiye Navratra कर रहे हैं उनको ये पैराग्राफ पढना बहुत जरूरी हैं वो क्रपा इस पुरे अध्याय को ध्यान से पढ़े | अंत में आपके लिए खाश बात ये हैं की Kanya pujan ke baad kya kare ?

Navratri kanya pujan

Navratri Me Kanya Pujan Kaise Kare ?

Navratri Me Kanya Pujan Kaise Kare ? महाअष्टमी या नवमी के दिन कन्या पूजन किया जाता है। कन्या पूजन कुछ लोग अष्टमी के दिन और कुछ नवमी के दिन कन्या पूजन करते हैं। दुर्गाष्टमी और नवमी के दिन इन कन्याओं को नौ देवी का रूप मानकर इनका स्वागत किया जाता है हम अपने परिवार की रीति के अनुसार किसी भी दिन Kanya Pujan कर सकते है। कन्या पूजन के लिए 3 से 9 साल तक आयु की कन्याओं तथा साथ ही एक छोटा लड़का को खीर, पूरी, हलवा, चने की सब्जी आदि खिलाए जाते हैं। खाना खाने के बाद कन्याओं को तिलक करके, हाथ में मौली (नाल) बांधकर, गिफ्ट दक्षिणा (भेंट) आदि देकर आशीर्वाद लिया जाता है, फिर उन्हें विदा किया जाता है।

कन्या पूजन में नों कन्याओं के साथ एक लड़के को बैठाया जाता हैं जिसे लंगूरिया कहा जाता हैं | लंगूर’ को हनुमान का रूप माना जाता है जिस तरह वैष्णों देवी के दर्शन के बाद भैरो के दर्शन करने से ही दर्शन पूरे माने जाते हैं, ठीक उसकी तरह कन्‍या पूजन के दौरान लंगूर को कन्याओं के साथ बैठाने पर ये पूजा सफल मानी जाती है |

Navratri Kanya Pujan ka Samay – Navratri kanya puja date

कन्‍या पूजन का शुभ मुहूर्त

  • 17 अक्‍टूबर 2018 को कन्‍या पूजन के दो शुभ मुहूर्त हैं |
  • सुबह 6 बजकर 28 मिनट से 9 बजकर 20 मिनट तक
  • सुबह 10 बजकर 46 मिनट से दोपहर 12 बजकर 12 मिनट तक

Navratri Kanya Pujan Vidhi

कन्‍या पूजन के दिन सुबह नहा-धोकर भगवान गणेश और माँ दुर्गा की पूजा करें। कन्‍या पूजन के लिए 2 साल से लेकर 10 साल तक की नौ कन्‍याओं और एक छोटे बालक को आमंत्रित करें। सभी कन्‍याओं को बैठने के लिए आसन दें। फिर सभी कन्‍याओं के पैर धोएं। अब उन्‍हें रोली, कुमकुम और अक्षत का टीका लगाएं। इसके बाद उनके हाथ में मौली बाधें। अब सभी कन्‍याओं और बालक को घी का दीपक दिखाकर उनकी आरती करें। आरती के बाद सभी कन्‍याओं को भोग लगाएं। भोजन के बाद कन्‍याओं को भेंट और उपहार दें।

Navratri Kanya Pujan Samagri in Hindi –

  1. अगरबत्ती
  2. इलायची और लौंग
  3. लाल चुनरी : लाल चुनरी सुहागन के श्रृंगार का अहम हिस्सा मानी जाती है इसलिए नवरात्रि में चुनरी का इस्तेमाल सर ढकने के लिए किया जाता है.
  4. नारियल
  5. दही
  6. दुर्गा सप्तशती किताब
  7. फूल एवं माला
  8. घास
  9. गंगा जल
  10. गुलाल : कहते हैं दुर्गा मां को गुलाल की सुगंध काफी आकर्षित करती है इसलिए गुलाल का इस्तेमाल हर नवरात्रि में सदियों से किया जा रहा है.
  11. इस पूजन में पांच प्रकार के खास फलों को देवी मां को अर्पित किया जाता है.
  12. हवन की अग्नि को बढ़ाने के लिए शुद्ध घी का इस्तेमाल किया जाता है.
  13. पूजन के लिए सामग्री में हरी चूड़ियां भी शामिल की जाती हैं.
  14. शहद पंचामृत का एक हिस्सा है जो कि हमारी वाणी में सदा मिठास कायम करता है इसलिए शहद का इस्तेमाल भी सूजन में किया जाता है.
  15. दुर्गा मां की मूर्ति
  16. कपूर, कुमकुम एवं दूध
  17. लाल धागा
  18. पान के पत्ते
  19. चावल, रोली और चंदन
  20. सुपारी और चीनी

Navratri Kanya Puja food [नवरात्रि कन्या भोजन]

नवरात्र में कन्याओं को भोजन करने से मां प्रसन्न होती हैं। इसलिए मां के भक्त श्रद्धापूर्वक कुंवारी कन्याओं को अपने घर निमंत्रण देकर बुलाते हैं और उन्हें हलवा पूरी, खीर, मिठाई खिलाते हैं।

Navratri Kanya Puja Gift

नवरात्री पर कन्याओं को उपहार के लिए बाजार में बहुत सारे गिफ्ट मोजूद हैं जो हम नवरात्रा में कन्याओं को भेंट कर सकते हैं मुख्य रूप से Navratri Kanya Puja Gift – में स्टील की कटोरी, प्लेट, खाने का टिफिन, कपडे या फिर स्कूल बेग, कप सैट आदि उपहार सवरूप भेंट कर सकतेहैं |

Kanya Pujan Ke Baad Kya Kre

कन्याओं का पूजन करने के बाद अगर आप उन्हे अपने घर से विदा करते है। तो ये बात ना भूले की उनके कदम घर से बाहर रखने के तुरन्त बाद घर की सफाई गलती से भी नहीं करनी चाहिए। खासकर अगर आप घर पर झाडू लगाने की सोच रहे हो तो ये काम आप कन्याओं की मौजूदगी के वक्त ही निपटा ले। और कन्या पूजन के तुरन्त बाद भूल से भी घर के किसी वस्त्र की सफाई नहीं करनी चाहिए। तीसरी और सबसे ज्यादा ध्यान रखने की बात ये है कि कन्या पूजन के बाद गल्ती से भी आपको स्नान नहीं करना हैं । साफ सफाई जैसी कोई भी चिज़ यानी सर धोना और नाखून काटना ये सब बिलकुल भी नहीं करना चाहिए | क्योंकि कन्या पूजन के पावन दिन ये काम अशुभ माना जाता है। जिससे पूजन व्यर्थ माना जा सकता है।

You Must Read

Navratri Puja Vidhi Shubh Muhurat 2018 Kalas Sthapana Vrat K... नवरात्र किन किन देवियों की पूजा होत...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.