रीट भर्ती 2021 अभ्यर्थियों की बढ़ी चिंता, क्या अभी भी लटक सकती है कोर्ट में ?

रीट भर्ती 2021 अभ्यर्थियों की बढ़ी चिंता | अदालत में लटक सकती हें रीट भर्ती 2021 | रीट BSTC vs B.Ed मामले पर अगली सुनवाई फरवरी में | राजस्थान रीट भर्ती हाईकोर्ट से जुडी ताजा खबर | क्या रीट भर्ती कोर्ट के दायरे से बाहर निकल जायेगी | इसके अलावा भी रीट भर्ती पर पहले से ही कई तरह की समस्या आ रही है | सभी की ताजा अपडेट आपको यंहा Rkalert पर मिल जायेंगी |

जैसा की सभी रीट अभ्यर्थियों को पता है की रीट के ऑनलाइन फॉर्म शुरू हो चुके है | पर इसके साथ ही भर्ती पर मुसीबत भी आना शुरू हो चुकी है | ताजा खबर के अनुसार अब रीट भर्ती को राजस्थान हाईकोर्ट में चुनोती दी गयी है | और राजस्थान हाईकोर्ट ने इसकी पहली सुनवाई 19 जनवरी को करते हुये सरकार और विभाग को तलब किया है |

REET 2021 Highcourt News
रीट भर्ती हाईकोर्ट न्यूज़ 

राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब माँगा

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा अब एक बार फिर से कोर्ट में फंस सकती हें | मंगलवार को राजस्थान हाईकोर्ट ने रीट नोटिफिकेशन को चुनोती देने वाली सभी याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए राजस्थान की गहलोत सरकार से जवाब माँगा हें | और याचिका के अनुसार नोटिफिकेशन पर जो आपतियां आ रही है उनपर सभी बातों को क्लियर करने को कहा गया है |

राजस्थान हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुये जस्टिस सबीना खंड पीठ ने प्रमुख शासन सचिव शिक्षा और निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा, कोर्डिनेटर रीट और चेयरमैन एनसीटीई को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया हें | अब इसके बाद कोर्ट अगली सुनवाई 2 फरवरी 2021 को करने वाला हें | पुरे मामलें में राज्य सरकार की और से जवाब देने के लिए समय की मांग की गयी हें | हालाँकि रीट भर्ती पर पहले ही राज्य सरकार की और से कैवियट दायर कर दी गयी हें |

रीट 2021 के आवेदन यंहा से करें

याचिका में रीट भर्ती परीक्षा से पहले ही गाईड लाइन को चुनोती

याचिकाओं में एनसीटीई की 23 अगस्त 2010 की गाईड लाइन को चुनोती दी गयी हें | इसमें एनसीटीई की गाईड लाइन को असंवेधानिक घोषित करने और गाईड लाइन को गलत बताते हुए रीट नोटिफिकेशन को रद्द करने की मांग की गयी हें | और रीट के नोटिफिकेशन को नये तरीके से जारी करने की मांग की है | जिसके अनुसार लेवल 1 में BSTC के साथ बीएड वाले अभ्यर्थियों को भी शामिल किया जाये |

याचिकाओं में इसके साथ ही बीएड धारियों को फर्स्ट लेवल में शामिल करने की मांग का तर्क भी दिया है | इस याचिका के अधिवक्ता कलीम अहमद खान ने बताया की आरटीई कानून कहता हें की बच्चों को उच्चस्तरीय और गुणवता युक्त शिक्षा से वंचित नही किया जा सकता | लेकिन रीट लेवल 1st में बीएड धारकों व उच्च योग्यता वालों को शामिल नही करना सविंधान के प्रावधानों के अनुसार गलत हें |

रीट सिलेबस – टॉपिक वाइज – यंहा से देखें 

रीट BSTC vs B.Ed मामले पर अगली सुनवाई फरवरी में |

अब इस पर राजस्थान हाईकोर्ट में अगली सुनवाई 2 फरवरी 2021 को है | जिसपर सभी अभ्यर्थियों की पैनी नजर है | अब देखा यह जायेगा की क्या यह भर्ती भी मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी आगे बढ़ सकती है क्या ? या फिर राजस्थान सरकार जैसा कहती है वैसा करती है | कथनी और करनी में फर्क नजर आता है या नही | वैसे रीट भर्ती का इन्तजार 10 लाख से जायदा अभ्यर्थियों को है, की से सफलतापूर्वक संपन्न हो जाये |

आप हमें कमेंट में अपनी राय दे सकते है | रीट भर्ती की ताजा खबरों के लिये Rkalert.in पर विजिट करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.