Essay on Yog Diwas 2020 international yoga day on 21 June योग दिवस निबंध

Essay on Yog Diwas 2020 International Yoga Day is celebrated on June 21. This day is the longest day of the year and Yoga also provides a long life to man. The art of living life is yoga. Yoga to be world health, for the first time this day was celebrated on June 21, 2015, which was initiated by Indian Prime Minister Narendra Modi on 27 September 2014 in his speech at the United Nations General Assembly in which he said. Essay on Yog Diwas 2020 has been celebrated on 21 June 2020 and Writing yoga day essay Hindi and English. 21 जून को प्रति वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस बार योग दिवस दो प्रकार से भिन्न है। पहला इस साल कोरोना वायरस के चलते सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो रहे हैं। दूसरा इस बार योग दिवस के मौके पर सूर्य ग्रहण भी लग रहा है। ऐसे में हम आपको बताएंगे कि सूर्य ग्रहण और कोरोना काल के समय आपको घर पर योग किस प्रकार से करना है। 

Essay on Yog Diwas 2020 योग दिवस निबंध

Half hour for yoga in the morning gives you energy for the whole day and cools your mind to face all the problems of a day. International yoga day in Marathi Essay on Yog Diwas 2020

इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। 21 जून को सुबह 9 बजकर 15 मिनट से सूर्य ग्रहण लग रहा है जो दोपहर 3 बजकर 4 मिनट में खत्म होगा। कोशिश करें कि ग्रहण लगने से पूर्व ही आप योग करें, हालांकि ग्रहण के दौरान भी योग किया जा सकता है। परंतु ध्यान रहे योग करने के लिए बाहर न जाएं। घर पर ही करें। 

योग दिवस की एक विशेष पहचान बनाने में भारत का बहुत बड़ा योगदान रहा हैं सबसे पहले योग दिवस के बारे में सयुक्त राष्ट्र संघ में परस्ताव भारत ने रखा था | और इस पास होने में मात्र 86 दिन लगे थे ये आज तक के इतिहास में सब से कम समय में पास होने वाला परस्ताव था जिसे एक साथ 177 देशो की सहमति हुई थी | ये भारत के लिये गौरव की बात हैं | योग एकदम विलुप्त होने के कगार पर था लेकिन भारत ने इस संस्कर्ति वह कला को एक नहीं पहचान और पुरे विश्व को रोगो से मुक्त करने की पहल की हैं | योग दिवस के बारे में सबसे पहले भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सयुक्त राष्ट्र संघ भाषण दिया जिसका कई देशो ने अपना समर्थन दिया |

योग दिवस की स्थापना

पहली बार यह दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया, योग की शुरुआत भारत में पूर्व-वैदिक काल में हुई मानी जाती है। योग हजारों साल से भारतीयों की जीवन-शैली का हिस्सा रहा है। ये भारत की धरोहर है। योग में पूरी मानव जाति को एकजुट करने की शक्ति है। यह ज्ञान, कर्म और भक्ति का आदर्श मिश्रण है। दुनिया भर के अनगिनत लोगों ने योग को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाया है। योग एक कला हैं जिस से हम अपना मन को शरीर दोनों को संतुलित रख सकते हैं और हर रोग से बचा जा सकता हैं |

हर रोग का इलाज हैं योग

इस भाग दौड़ वाली जिंदिगी में हर इंसान मानसिक रोगी हो रहा हैं और धीरे धीरे मरता हैं हजारो टेंशन हैं योग ही एक ऐसे किर्या हैं जिस से इंसान को मानसिक वह शारीरिक सुख मिलता हैं | हर रोग का इलाज हैं योग |

हर प्रकार के योगा में चार तत्व होते हैं

  • प्राणायाम
  • आसन
  • मेडिटेशन
  • रिलेक्सेशन
  • योग किर्या नाम

फिट के साथ खुश भी रहेंगे
कोई भी व्यक्ति फिट तभी है, जब वो केवल शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक व भावनात्मक रूप से भी फिट हो। अगर आप उत्साह से भरे हैं और प्रसन्नचित्त हैं, तभी आप स्वस्थ हैं। इन मामलों में योग आपकी बहुत मदद करता है। यूं कहें तो योग के अभ्यास से आप शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फिट रहते हैं।

योग के अभ्यास के दौरान सांस लेने की प्रक्रिया बहुत महत्वपूर्ण होती है। इसके साथ ही योग सांस पर नियंत्रण रखने की कला सिखाता है। सांस पर नियंत्रण होने के कारण मस्तिष्क के हर हिस्सों में संतुलन बना रहता है।

सूर्य नमस्कार और कपाल भारती प्राणायम आपको शरीर पर जमा अतिरिक्त चर्बी से राहत दिलाने में मदद करता है। इसके साथ ही योग करने से आप शरीर के लिए उपयोगी भोजन के प्रति संवेदनशील हो जाते हैं, जिससे आपका वजन नियंत्रण में रहता है।

स्वस्तिकासन, गोमुखासन, गोरक्षासन, अर्द्धमत्स्येन्द्रासन, योगमुद्रासन, उदाराकर्षण या शंखासन, सर्वांगासन, प्राणायाम, अनुलोम-विलोम, कपालभाति, भ्रामरी प्राणायाम,

हमारे सेहत के लिए योग कितना फायदेमंद है, ये बात हम सभी लोग अच्छी तरह से जानते हैं। योग के नियमित अभ्यास से आप दिनभर ऊर्जावान रहते हैं और कई तरह की बीमारियों से भी सुरक्षा मिलती है। हर मौसम में योग हमारे सेहत के लिए फायदेमंद है। योग से होने वाले फायदों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से योग के अभ्यास से होने वाले 7 बड़े फायदों के बारे में बताएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.