Holika Dahan Shubh Muhart 2018 Holi Pujan Vidhi Time Table ये हैं होली दहन का शुभ मुहर्त और विधि

Holika Dahan Shubh Muhart Pooja Vidhi 2018 : Holi is a religious festival celebrated by Hindus all over the world. Holi is a Second Biggest Festival in Hindu Religions. Holi is also known as festival of Colors. We Have Provide Below Holika dahan Perfect Time Table & Holika Dahan Shubh Muhart or Pooja Vidhi.

Holika Dahan Shubh Time Puja Vidhi / होलिका दहन का शुभ समय

  • एक मार्च : दहन का शुभ मुहूर्त
  • होलिका दहन मुहूर्त- 18 :16 से 20 :47 तक
  • भद्रा पूंछ- 15 : 54 से 16 : 58 तक
  • भद्रा मुख- 16 : 58 से 18 : 45 तक

2 मार्च को होली सुबह 6:21 बजे से शुरू

धुलंडी : 2 मार्च को

होलिका पूजा विधि और सामग्री

होलिका दहन पूर्णिमा तिथि में प्रदोष काल के दौरान करना चाहिए लेकिन ध्यान रखें कि जब भद्राकाल चल रहा हो तो इस दौरान होलिका दहन नहीं करना चाहिए। भद्राकाल के समय होलिका दहन शुभ नहीं माना जाता है । पंचाग के अनुसार इस बार होलिका दहन का शुभ मुहूर्त शाम 6 बजकर 26 मिनट से लेकर 8 बजकर 55 मिनट तक रहेगा।

होलिका दहन से पूर्व होली का पूजन करने का विधान है। इस दौरान जातक को पूजा करते वक्त पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके बैठना चाहिए।

होलिका पूजन सामग्री : पूजन करने के लिए माला, रोली, गंध, पुष्प, कच्चा सूत, गुड़, साबुत हल्दी, मूंग, बताशे, गुलाल, नारियल, पांच प्रकार के अनाज में गेंहू की बालियां और साथ में एक लोटा जल रखना चाहिए और उसके बाद होलिका के चारों ओर परिक्रमा करनी चाहिए।

होलिका पूजा विधि – यथाशक्ति संकल्प लेकर गोत्र-नामादि का उच्चारण कर पूजा करें।

सबसे पहले गणेश व गौरी इत्यादि का पूजन करें।
‘ॐ होलिकायै नम:’ से होली का पूजन कर ‘ॐ प्रहलादाय नम:’ से प्रहलाद का पूजन करें।
पश्चात ‘ॐ नृसिंहाय नम:’ से भगवान नृसिंह का पूजन करें, तत्पश्चात अपनी समस्त मनोकामनाएं कहें व गलतियों के लिए क्षमा मांगें। कच्चा सूत होलिका पर चारों तरफ लपेटकर 3 परिक्रमा कर लें। अंत में लोटे का जल चढ़ाकर कहें- ‘ॐ ब्रह्मार्पणमस्तु।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.